हर एक पल कि…

Standard

Devil:- क्यूँ..जिंदगी  में कभी कभी ऐसे मुकाम आते है…
जहाँ सबके होते हुए भी….एक खालीपन का रहता है एहसास …..
क्यूँ…लगती है  राहें  सुनी सुनी…..
क्यूँ लगती है जिंदगी एक बीरान ..
क्यूँ लगता है के परछाईयाँ भी नहीं है साथ मेरे,
आखिर  क्यूँ ?

Angle:- अपनी नज़रो को बदल के देखो
खालीपन  का नामो   निशान  न होगा…..
रास्ते  होंगी मुस्किल  पर
हर अच्छे  दोस्त का साथ होगा.

Devli:- कितनी दूर  निभाओगे  साथ आप…..
हर पल देखा है अपनों   को बिछड़ते इन राहों  में….
हर पल की है यही सचाई ….
क्या करें एक पल की है ये दुनिया…
हर एक पल कि है यही कहानी

Roushan n Richa

Advertisements

For my Childhood friend Payal

Standard

दोस्ती हो नयी या पुरानी
याद तो रहती है
दिल के किसी कोने में
एक एहसास तो रहता है

कभी तू खुद से पूछ
क्या पाया और क्या खोया तुने
मेरे मिलने के बाद
या फिर याद नहीं कुछ

जिंदगी के हर मोड पे
नए रिश्ते है बनते
कुछ सड़क के मोड पे जाते है बिछड़
कुछ रहते है मंजिल तक साथ आपके

तेरी हर बात थी निराली
तेरे सुरूर में भूल जाता था सब कुछ
तेरी बातों में है फूलों सी महक
तेरी ख़ामोशी में भी है एक चहेक

जब तुम मिले जिंदगी के एक मोड पे
याद आगये मुझे वोह लम्हे
जिन्हें में छोड़ आया था पीछे
किसी मोड़ पे तनहा अकेले
रौशन