मोहब्बत का असर

Standard

kitu:-

ना वो आसमा,
ना वो मोती,
ना वो जुगनू है ए-रहगुज़र
ये बस है मोहब्बत का असर ,

Roushan:-

मोहब्बत का असर कहो या
कहो इससे मेरा दीवानापन
या कहो मेरी दीवानगी की हद ..
पर जैसे मैंने देखा उसे शायद
देखा हो किस्सी और ने उसे वैसा…

Roushan n Kitu

Advertisements

हर एक पल कि…

Standard

Devil:- क्यूँ..जिंदगी  में कभी कभी ऐसे मुकाम आते है…
जहाँ सबके होते हुए भी….एक खालीपन का रहता है एहसास …..
क्यूँ…लगती है  राहें  सुनी सुनी…..
क्यूँ लगती है जिंदगी एक बीरान ..
क्यूँ लगता है के परछाईयाँ भी नहीं है साथ मेरे,
आखिर  क्यूँ ?

Angle:- अपनी नज़रो को बदल के देखो
खालीपन  का नामो   निशान  न होगा…..
रास्ते  होंगी मुस्किल  पर
हर अच्छे  दोस्त का साथ होगा.

Devli:- कितनी दूर  निभाओगे  साथ आप…..
हर पल देखा है अपनों   को बिछड़ते इन राहों  में….
हर पल की है यही सचाई ….
क्या करें एक पल की है ये दुनिया…
हर एक पल कि है यही कहानी

Roushan n Richa

एक इल्तेज़ा

Standard

हमें  तो  है मोहबत  आपसे
हम ये कह  न सके  आपसे
जब से टकराई  है नज़रें  आपसे
हम भूल गए सब कुछ

कभी हमें भी देखो प्यार  से
आपकी ये बेरुखी अब है तडपाती  हमें
हमने तो की है मोह्बात  आपसे
कोई गुनाह  तो नहीं किया

रोज़ गुज़रते  हैं आपकी गलीओं  से
इसी खावाशी  में के
कभी तो आप हमें मिल जाओ  उसी मोड़ पे
जहाँ हम मिले थे पहले  कभी

अब तो मेरे सपनो में हो सिर्फ़  आप
आप ही हो अब मेरे दिल में
सोचता हूँ बनाऊं आपको अपना
पर ये कह नही पाता कभी आपके सामने

जब  भी देखता हूँ आपको
मुझे नही रहता याद कुछ
आपके आगे भूल सा जाता हूँ,
मैं ख़ुद को

अब तो समझ जाओ आप
हमारे इन धडकनों को
जिनमें रहते हो आप
और आप ही रहते हो इन साँसो  में

जब तक चलेंगी  सांसे  हमारी
तब तक हम चाहेंगे आपको
भले आप हो न सके हमारे
फिर भी उन्ही  हम चाहेंगे आपको

बस है एक इल्तेज़ा आपसे
उन्ही रहना आप हमारे आस-पास कहीं

रौशन

वो हमसे रूठे ….

Standard

वो हमसे रूठे
थी गलती हमारी
या थी अदा उनकी

हमने तो चाहा था साथ उनका
पर वो छोड़ गये दे दिलासा

हमने तो फैलाई थी अपनी बाहें
पर आया उन्हें रास साथ किसी और का

अपनी तो किस्मत ही थी खोटी
जो मिली टूटी कश्ती

कौन करता है बात मझधार पार करने की
साहिल के नरम थपेरों से डूबी आपनी कश्ती

किस्मत तो थी अपनी खोटी
जो खोया उन्हें हमने पाने से पहले

अब हमारी हसरत है अजीब
हम खोजते है कोई उनके जैसी नाजनीन

रौशन