याद !!

Standard

याद  करने  से  आया  कुछ  याद  मुझे ,
के  कुछ  रखना  है  याद  मुझे  और
कुछ  है  जाना  भूल , पर  क्या  रखना  है
याद  और  क्या  जाना  है  भूल  ये  याद  नहीं  मुझे

याद  है  मुझे  कुछ  अच्छे और  कुछ  बुरे  पल ,
किस्से  जाऊँ में  भूल , दोनों  है अनमोल  मेरे  लिए ,
क्या  भूल  जाऊँ उन  अच्छे  पलों  को  जो याद  दिलाते  है ,
मेरे  बीते  कल  के  सुनहरे  लम्हे ,

या  भूल  जाओं  में  बीते  कल  के  बुरे  यादों  को ,
जो  मुझे  दिलाते  है  एहसास  के  में  न  करूँ
वो  गलतियाँ  आने  वाले  कल  में ,
मैं हूँ  बड़े  कशमकश में किस्से  जाओं
भूल  आपने  कल  को  या  आपने  आज  को

Roushan

2 thoughts on “याद !!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s